Saturday, November 23, 2013

कौन हूँ मैं




                      सिर्फ आत्मा 
                
                           रूह
            
                  दिल की गहराई से

                        देखो

                 बस और कुछ नही

                        मैं 

                    वो ही मैं हूँ

                        सिर्फ

                  तुम में समायी 

                       तुम्हारी

                  साँसो में बसी हूँ

                       दिल

                  में  धड़कती हूँ

                      समझे 

                     कौन हूँ मैं

                       बोलो

             कभी नही समझोगे

                      मैं हूँ


              तुम्हारी परछाई

                   जो है

              तुम मे समायी

        

1 comment: