Tuesday, October 2, 2012

कैसी मुहब्बत

आईना

ये कैसी मुहब्बत

खुदा जाने

आईने और पत्थर की

खुदा जाने

पत्थर ने टुकड़े किये आईने के

और

आईने ने हर टुकड़े में देखा उसे कैसे

खुदा जाने

2 comments:

  1. Replies
    1. थैंक्स गजाला ....कौन समझ पाया इस मुहब्बत को ...

      Delete